Akshaya Tritiya in Hindi | 10 lines on Akshaya Tritiya in Hindi

10 lines on Akshaya Tritiya: अक्षय तृतीया 

Akshaya Tritiya को अक्ती या अखा तीज के रूप में भी जाना जाता है, हिंदुओं और जैनियों का एक वार्षिक बसंत उत्सव है। यह वैशाख महीने के शुक्ल पक्ष की तीसरी तिथि पर पड़ता है।

अक्षय तृतीया

  1. Akshaya Tritiya हिंदुओं का त्यौहार है, जो कि वैशाख मास के शुक्ल पक्ष के तीसरे दिन पड़ता है.
  2. अक्षय तृतीया को हिंदू धर्म के साथ जैन धर्म में भी बनाया जाता है.
  3.  ऐसा माना जाता है कि अक्षय तृतीया के दिन से भगवान गणेश ने महाभारत लिखना प्रारंभ किया था.
  4. अक्षय एक संस्कृत का शब्द है जिसका अर्थ होता है कभी न समाप्त होने वाला.
  5.  ऐसा कहा जाता है कि अक्षय तृतीया के दिन जिसकी शादी होती है उसको कभी भी आर्थिक समस्या का सामना नहीं करना पड़ता.
  6. अक्षय तृतीया के दिन भगवान विष्णु की पूजा होती है.
  7.  शास्त्रों में ऐसा लिखा है कि इस दिन हम जो भी पुण्य कर्म करते हैं उनका फल हमेशा मिलता है.
  8.  अक्षय तृतीया के दिन कुछ भी दान करने से हमारे जीवन में खुशी संपन्नता और समृद्धि आती है.
  9. अक्षय तृतीया के दिन ही भगवान कृष्ण और सुदामा का कई वर्षों बाद मिलन हुआ था।
  10. द्वापर युग मे महाभारत का युद्ध अक्षय तृतीया के दिन ही खत्म हुआ माना जाता है।
यह भी पढ़ें   शिक्षा के महत्व पर निबंध | Essay on Importance of Education in Hindi

उम्मीद है कि यह अक्षय तृतीया Akshaya Tritiya पर पोस्ट आपके लिए उपयोगी था। इससे सम्बंधित और जानने के लिए हमारे पेज Hindi Essay से जुड़े रहें। अपने दोस्तों और साथियों को सोशल मीडिया पे शेयर करें।  यदि आपके पास कोई सुझाव या कोई सवाल है तो हमें Comment Box में लिखे, हमे पढ़ के ख़ुशी होगी।

अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई हो तो Please हमारे Post को Facebook, Instagram और Pinterest पर Share करें।

ऐसे ही और Post और Latest Essays Updates के लिए हमारी Website को Subscribe करें।

Leave a Comment

error: Content is protected !!