Maharishi Valmiki Jayanti in Hindi | महर्षि बाल्मीकि जयंती पर 10 पंक्तियाँ

10 Lines on Maharishi Valmiki Jayanti in Hindi | महर्षि बाल्मीकि जयंती पर 10 पंक्तियाँ

Maharishi Valmiki Jayanti ऋषि, वाल्मीकि, संस्कृत कवि हैं जिन्होंने महाकाव्य रामायण लिखा था। इस वर्ष, वाल्मीकि जयंती रविवार (13 अक्टूबर) को मनाई जाती है। इस घटना की तारीख हर साल बदलती है और चंद्र कैलेंडर द्वारा निर्धारित की जाती है।

महर्षि बाल्मीकि जयंती पर 10 पंक्तियाँ

  1. महर्षि वाल्मीकि जयंती समानता अक्टूबर माह मे हर साल मनाया जाता है।
  2. Maharishi Valmiki का संबंध वैदिक काल से है।
  3. इनका जन्म दिवस अश्वनी माह की शरद पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है।
  4. महर्षि वाल्मीकि, महर्षि कश्यप और आदित्य के 9वे पुत्र वरुण आदित्य वाल्मीकि के पिता है।
  5. इनके पिता वरुण आदित्य को प्रचेता के नाम से भी जाना जाता है।
  6. महर्षि वाल्मीकि सुप्रसिद्ध काव्य रामायण के रचयिता है।
  7. महर्षि वाल्मीकि को अग्नि शर्मा के नाम से भी जाना जाता है।
  8. वे एक साधु सन्यासी बनने से पहले डाकू रत्नाकर के नाम से कुख्यात थे।
  9. महर्षि वाल्मीकि ऋषि मुनि होने के साथ-साथ कवि भी थे।
  10. महर्षि वाल्मीकि द्वारा रचित रामायण में 24,000 श्लोक तथा सात खंड हैं।

इस पोस्ट के माध्यम से Maharishi Valmiki Jayanti के बारे में विस्तार में जानने को मिला, ऐसे ही और निबंध आपको हमारे Hindi Essay पेज पे मिलते रहेंगे। इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ share करें और Social Media पर भी Share करें।

 

यह भी पढ़ें   Taj Mahal कब और किसने बनाया था? | History of Taj Mahal
error: Content is protected !!