भारत का सबसे कम जनसंख्या वाला राज्य कौन सा है? | Bharat ka Sabse Kam Jansankhya Vala Rajya

दोस्तों आज की इस पोस्ट में जानिए की भारत का सबसे कम जनसंख्या वाला राज्य ( Bharat ka Sabse Kam Jansankhya Vala Rajya) कौन सा है?। यहाँ आपको पूरी जानकारी मिलेगी। यह हिंदी जी के ( G. K.) का महत्वपूर्ण सवाल है|

भारत का सबसे कम जनसंख्या वाला राज्य (Bharat ka Sabse Kam Jansankhya Vala Rajya) सबसे कम नगरीय जनसंख्या वाला राज्य

भारत जो एक विशाल जनसंख्या वाला देश है। यहां अनेक धर्म जाति के लोग रहते हैं। भारत में अलग-अलग भाषाएं बोली जाती हैं। भारत में कुछ ऐसे राज्य है जिनकी जनसंख्या में दुनिया के अनेक देशों आ सकते हैं, परंतु कुछ राज्य ऐसे हैं जहां की जनसंख्या कम है। भारत का सबसे कम जनसंख्या वाला राज्य सिक्किम राज्य है। सिक्किम की जनसंख्या 610, 577 लगभग है।

भारत का सबसे कम जनसंख्या वाला राज्य

 

भारत का सबसे कम जनसंख्या वाला राज्य: सिक्किम 

सिक्किम राज्य

जनगणना के आधार पर 2011 में भारत का कम जनसंख्या वाला राज्य सिक्किम को माना गया है। इसका भारत के साथ विलय 16 मई 1975 को की ही हुआ था।

सिक्किम राज्य की जनगणना जब भी हुई है, तब-तब यह राज्य भारत के सभी कम जनसंख्या वाले राज्यों में से सबसे कम जनसंख्या वाला राज्य माना गया है। गोवा राज्य भारत के सबसे कम जनसंख्या वाले राज्यों में से एक है, परंतु इस राज्य के बाद से कम राज्य सबसे कम संख्या वाला राज्य माना गया है।
भारत के कम जनसंख्या वाले राज्यों में से गोवा के बाद सिक्किम राज्य ही है। यहां का क्षेत्रफल 7096 स्क्वायर किलोमीटर होता है। जनगणना करने पर सिक्किम का स्थान 29 वां स्थान है। सिक्किम राज्य का क्षेत्रफल का 35% के अंतर्गत आता है।

यह भी पढ़ें   भारत की राजधानी का नाम क्या है? Bharat ki Rajdhani Kaha hai

सिक्किम की राजधानी गंगटोक है। यहा सिक्किम कस सबसे बड़ा शहर है। सिक्किम राज्य प्राकृतिक बनावटी के लिए मशहूर है। भारत की सबसे ऊंची चोटी सिक्किम के कंचनजंघा की चोटी है। यह चोटी विश्व की तीसरी ऊँची मानी जाती है।

सिक्किम की भाषाएँ

भारत का सबसे कम संख्या वाला राज्य होने के बाद भी इस राज्य में अनेक प्रकार की भाषाओं का प्रयोग होता है। सिक्किम में अधिकतर अंग्रेजी भाषा बोली जाती है। इसके अलावा भी यहां लगभग 10 से ज्यादा भाषाएं बोली जाती हैं जैसे- नेपाली,भूटिया, लेपचा, लिम्बु, गुरुगा, मगर, माख्या,नेवारी, राई ,शेरपा एवं तमांग आदि भाषाएं बोली जाती हैं। इस राज्य में और राज्यों से अधिक भाषाएं बोली जाती हैं।

सिक्किम राज्य की साक्षरता दर कितनी है

भारत के सिक्किम राज्य की साक्षरता दर भारत देश के बड़े राज्यों से काफी अच्छी है। भारत में 2011 के आंकड़ों के मुताबिक यहां की दर 82.2% थी। इसमें से महिलाओं की दर 87. 29% एवं पुरुषों की दर 82.2% थी। सिक्किम राज्य में कुल मिलाकर 1157 स्कूल बने हैं। इन स्कूलों में से सरकारी स्कूल तथा 7 स्कूल केंद्रीय स्कूल है। सिक्किम में कम से कम 1157 में 1157 स्कूलों में से 385 स्कूल प्राइवेट स्कूल हैं। भारत के सिक्किम राज्य में से 4 प्राइवेट तथा 1 सेन्ट्रल यूनिवर्सिटी भी है।

सिक्किम राज अपनी जनसंख्या के साथ-साथ खूबसूरती, अनेक भाषाओं के लिए भी मशहूर है। यह भारत का सबसे कम जनसंख्या वाला राज्य माना गया है, परंतु यहां सबसे अधिक भाषाएं बोली जाती हैं।

सिक्किम का प्रमुख धर्म

भारत के सिक्किम राज्य के प्रमुख धर्म हिंदू धर्म ही है। सिक्किम राज्य में कुल आबादी में से 57.8% लोग हिंदू धर्म मानने वाले हैं, साथ ही यहां का दूसरा प्रमुख धर्म बौद्ध धर्म है। बौद्ध धर्म की आबादी 27.3% है। यहां 9.9% क्रिश्चियन 4.1 मुस्लिम एवं 3.7% अलग-अलग धर्म के लोग रहते हैं। सिक्किम राज्य में अनेक प्रसिद्ध मंदिरें हैं। इस राज्य में कृतेश्वर मंदिर प्रमुख माना जाता है।

यह भी पढ़ें   नोबेल पुरस्कार पाने वाले पहले भारतीय कौन थे? | Who was the first Indian to get Nobel Prize

भारत का सबसे कम जनसंख्या वाला सिक्कम राज्य अपनी सुंदरता और प्रसिद्धि के लिए मशहूर है। यहां के लोग हिंदू धर्म के प्रति अपनी श्रद्धा को दिन बा दिन बढ़ाते ही जाते हैं। सिक्किम राज्य अपनी कम जनसंख्या के साथ-साथ अपनी भिन्न-भिन्न भाषाओं के लिए भी प्रसिद्ध है।

तो दोस्तों मैं आशा करती हूं कि आपको हमारा यह आर्टिकल  भारत का सबसे कम जनसंख्या वाला राज्य (Bharat ka Sabse Kam Jansankhya Vala Rajya) सबसे कम नगरीय जनसंख्या वाला राज्य पसंद आया होगा। तो कृपया करके इसे शेयर करें। इससे जुड़ा कोई भी सवाल आप कमेंट करके पूछ सकते हैं।

अगर आपको हमारी यह पोस्ट भारत का सबसे कम जनसंख्या वाला राज्य (Bharat ka Sabse Kam Jansankhya Vala Rajya) पसंद आई है तो इस पोस्ट को फेसबुक, Instagram और Pintrest पे share करें|

ऐसे ही रोजाना जानकारी पाने के लिए जुड़े रहे hindi.todaysera.com/ के साथ।

error: Content is protected !!