मोबाइल का आविष्कार किसने किया था? | Who Invented the Cell Phone?

दोस्तो आज हम मोबाइल का आविष्कार किसने किया था? | Who Invented the Cell Phone? के बारे में जानेंगे,  ऐसे सवाल GK में काफी अधिक पूछे जाते है। यदि आपको नही पता है की मोबाइल का आविष्कार किसने किया था? | Who Invented the Cell Phone? तो हम आपको बता देते है की मार्टिन कूपर ने मोबाइल का आविष्कार किसने किया था|

मोबाइल का आविष्कार किसने किया था?:मार्टिन कूपर

मोबाइल फ़ोन के अविष्कारक मार्टिन कूपर

मोबाइल फोन के आविष्कारक मार्टिन कूपर है।मोबाइल फोन का आविष्कार किसने किया है यह बात पूरी दुनिया में शायद ही सभी लोग जानते हो। मोबाइल फोन आज के दौर में पूरी दुनिया भर के लिए एक सबसे अहम जरूरत बन चुका है। दुनिया के हर एक व्यक्ति का शायद किसी और चीज के बिना काम चल जाए पर मोबाइल फोन के बिना सोच भी नहीं सकते हैं।और वर्तमान के स्मार्टफोन ने तो एक नई क्रांति ला दी है।

मोबाइल फोन की दुनिया में जिसमें हर एक कार्य आप मोबाइल फोन से कर सकते है।वर्तमान में मोबाइल बात करने तक ही सीमित नहीं है।आप इससे बात करने के साथ-साथ मैसेजेस भी कर सकते है, मेल भेज सकते है, फोटो खीच सकते है, सोंग्स सुन सकते है, न्यूज़ देख सकते है,टीवी देख सकते है,वीडियो बना सकते है और ऐसे अनगिनत ढेर सारे कार्य कर सकते है जो आप पहले सोच भी नहीं सकते थे। दुनिया के हर कोने से आप आज संपर्क में है तो सिर्फ मोबाइल फोन और इंटरनेट की वजह से।

तो फिर चलिए जानते हैं मोबाइल फोन के जनक के जीवन के बारे में और मोबाइल फोन के इतिहास के बारे में।
डॉ० मार्टिन कूपर का जन्म 26 दिसंबर 1928 को अमेरिका के शिकागो शहर में हुआ था। मार्टिन कूपर की प्रारम्भिक शिक्षा शिकागो में ही हुई और इनका बाल्यकाल भी शिकागो में ही व्यतीत हुआ। इन्होंने इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में एम.एस की उपाधि प्राप्त की हुई है और इससे पहले ही 1954 में इन्होंने मोटोरोला कम्पनी में कार्य करना आरम्भ कर दिया था। इस कम्पनी में वह पोर्टेबल वस्तुओं को बनाने का कार्य किया करते थे।यहीं रहते हुए इन्होंने शिकागो पुलिस के लिए पोर्टेबल दस्ती पुलिस रेडियो काे बनाया था,जिसे इन्होंने 1967 को शिकागो पुलिस को सौंप दिया था।

READ  अरुणाचल प्रदेश में कितने जिले हैं? | How many Districts are in Arunachal Pradesh

इसके बाद इन्होंने मोटोरोला की सेल्यूलर रिसर्च को ओर आगे बढ़ाया जिसके फलस्वरूप 70 के दशक में दुनिया के पहले मोबाइल फोन का आविष्कार सम्भव हो सका।दुनिया का पहला मोबाइल फोन 3 अप्रैल 1973 को बनकर तैयार हुआ।मार्टिन कूपर जी को मोबाइल फोन बनाने की प्रेरणा टीवी सीरियल ‘स्टार ट्रेक’ से मिली थी।जिसमें हाथ में पकड़ी किसी डिवाइस से बातचीत करते हुए दिखाया गया था।

इस मोबाइल फोन को बनाने के बाद इन्होंने इस पर कई प्रयोग किए ताकि यह हर एक गुणवत्ता पर खरा उतर सके और इन्होंने लोगों की इस मान्यता को भी तोड़ दिया कि फोन पर बात केवल लैंडलाइन द्वारा ही सम्भव है।और कमाल की बात यह है कि इन्होंने अपने इस मोबाइल फोन द्वारा पहली कॉल और पहली बार बात अपने ही प्रतिद्वंदी जोएल एंजेल से की थी। जोकि ‘एटी एण्ड टी बेल लेब्स’ में कार्यरत था।

मार्टिन लूथर जी ने जब जोएल एंजेल को फोन लगाया और इन्होंने अपना लैंडलाइन फोन उठाया तब मार्टिन लूथर जी ने जोएल से कहा कि वह अपने पोर्टेबल मोबाइल फोन से बात कर रहे है। इस फोन का वजन 850 ग्राम था जो कि एक ईंट के वजन जितना महसूस होता था। इन मोबाइल फोन में कोई स्क्रीन नहीं होती थी।इसके बाद मोटोरोला कम्पनी ने 1983 में मोटरोला का डायनाटेक वर्जन लॉन्च किया जो पहले वाले मोबाइल फोन के मुकाबले वजन में आधा था। इस फोन की कीमत 3500 डॉलर थी क्योंकि शुरुआती दौर में मोबाइल फोन की कीमतें बहुत ज्यादा हुआ करती थी और धीरे-धीरे इनकी कीमतों में बहुत ज्यादा गिरावट आती चली गई।

READ  भारत के वर्तमान विदेश मंत्री कौन है 2019

Who invented Cell Phone?: Martin Cooper

मोबाइल फोन का आविष्कार करने वाले मार्टिन कूपर जी ने 1983 में मोटोरोला कंपनी को छोड़कर अपनी एक नई कंपनी बनाई जिसका कार्य सेल्यूलर इंडस्ट्रीज के लिए सॉफ्टवेयर और बिलिंग सिस्टम तैयार करना था।1992 में इस इस कम्पनी को बेच कर उन्होंने एरेकॉम कम्पनी की शुरुआत की जिसमें स्मार्ट एंटीना और तेज़ ब्रॉडबैंड प्रौद्योगिकी पर प्रयोग का कार्य शुरू किया गया,जिसका कार्य सेलफोन उपभोक्ताओं को सस्ती और तेज ब्रॉडबैंड सेवा उपलब्ध कराना था।

उनकी इस कम्पनी में उनकी पत्नी अर्लीन हैरिस भी इनकी सहयोगी थी,जो स्वयं भी स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से निकली इंजीनियर थी।2003 में एयरोकॉम कंपनी द्वारा विकसित iBurst जो की एक ब्रॉडबैंड वायरलेस सिस्टम है वर्तमान में भी ऑस्ट्रेलिया के कई भागों में सफलतापूर्वक उपयोग में लाया जा रहा है।

मोबाइल फोन का आविष्कार करने के बाद मार्टिन कूपर जी का सपना था कि जिस प्रकार मोबाइल फोन पूरी दुनिया तक पहुंच पाए हैं उसी प्रकार इन मोबाइल फोन में उपयोग होने वाली इन्टरनेट सुविधा सस्ती होने के साथ-साथ अच्छी स्पीड भी देती हो,जिसके लिए वह अपनी कम्पनी से कार्य करते है।इसके लिए ये तेज ब्रॉडबैंड्स भी लेकर आए और आज भी इस दिशा में वह कार्य कर रहे है।

अगर हम बात करें कि भारत में पहला मोबाइल फोन कब आया था तो भारत में यह अब से करीब 20 से 25 साल पहले 31 जुलाई 1995 को आया था।भारत में पहली बार मोबाइल पर बात उस समय के यूनियन टेलीकॉम मिनिस्टर सुखराम और पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री ज्योति बसु जी के बीच हुई थी।

READ  स्पेन की राजधानी क्या है। Spain ki Rajdhani Kya hai

तो यह थी मोबाइल का आविष्कार किसने किया था? | Who Invented the Cell Phone? से जुड़ी हुई रोचक जानकारी आशा है आपको यह जानकारी पर्याप्त लगी होगी।

हमारे इस पोस्ट को पढने के लिए हम आपका आभार व्यक्त करते है। इस जानकारी को ज्यादा से ज्यादा लोगो को facebook, whatsapp जैसे सोशल मीडिया पर जरुर शेयर करे।

ऐसे ही रोजाना जानकारी पाने के लिए जुडे रहे hindi.todaysera.com के साथ।

error: Content is protected !!